Never miss a great news story!
Get instant notifications from Economic Times
AllowNot now


You can switch off notifications anytime using browser settings.

इंश्योरेंस

31 October, 2020, 08:56 PM IST
विज्ञापन में बढ़ा-चढ़ाकर दावे नहीं कर सकेंगी बीमा कंपनियां, इरडा उठा रहा है यह कदम

इरडा ने कहा कि प्रस्तावित रेगुलेशन का मकसद यह सुनिश्चित करना है कि बीमा कंपनियां विज्ञापन जारी करते समय ईमानदार और पारदर्शी नीतियां अपनाएं और ऐसे व्यवहार से बचें जिनसे आम जनता के भरोसे को चोट पहुंचती हो.

क्‍या हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पॉलिसी की कलर कोडिंग से ग्राहकों को होगी सहूलियत?

सभी इंडिविजुअल हेल्‍थ प्‍लान को प्रोडक्‍ट की जटिलता के लेवल के अनुसार तीन रंग आवंटित किए जाएंगे. इनमें ग्रीन, रेड और ऑरेंज शामिल हैं.

पॉलिसी लेते वक्‍त जानकारी छुपाई तो खारिज हो सकता है क्‍लेम, जानिए क्‍यों

सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय उपभोक्ता शिकायत निवारण आयोग के फैसले को रद्द करते हुए कहा कि बीमा लेने वाले व्यक्ति ने अपनी पुरानी बीमारियों के बारे में जानकारियों का खुलासा नहीं किया था.

कोरोना कवच पॉलिसी ने बिक्री के तोड़े रिकॉर्ड, एक करोड़ का आंकड़ा पार किया

इसके तहत अपने और अपने परिवार के सदस्‍यों के लिए 50,000 रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक का कर्ज लिया जा सकता है.

एक जनवरी से 'सरल जीवन बीमा' खरीद सकेंगे आप, जानें इस स्टैंडर्ड टर्म पॉलिसी की खूबियां

यह शुद्ध प्रोटेक्‍शन प्‍लान होगा. इसमें 5 लाख रुपये से सम इंश्‍योर्ड शुरू होगा. पॉलिसी में किसी तर‍ह का मैच्‍योरिटी बेनिफिट नहीं होगा.

महंगी हुईं मेडिक्लेम पॉलिसी, 70% तक बढ़ा प्रीमियम

बीमा कंपनियों की दलील है कि कीमतें बढ़ाना जरूरी है क्‍योंकि इरडा ने कई ऐसी बीमारियों को कवर करने के लिए कहा है जो पहले पॉलिसी के दायरे में नहीं थीं.

कोरोना हेल्‍थ पॉलिसी रिन्‍यू और पोर्ट करा सकते हैं आप, इरडा ने दी इजाजत

लॉन्‍च होने के बाद थोड़े ही समय में कोविड-19 हेल्‍थ पॉलिसियां लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हो गईं. इरडा के चेयरमैन सुभाष कुंठिया के अनुसार, सितंबर तक ऐसी 60 लाख पॉलिसियां बेची गई थीं.

बोलेरो पिक-अप खरीदने पर महिंद्रा दे रही फ्री कोरोना इंश्‍योरेंस पॉलिसी

पिक-अप रेंज की गाड़‍ियों पर कोरोना इंश्‍योरेंस प्‍लान देने के लिए महिंद्रा एंड महिंद्रा ने ओरियंटल इंश्‍योरेंस कंपनी के साथ गठजोड़ किया है.

एक अक्‍टूबर से बदल गए हैं हेल्‍थ इंश्‍योरेंस के नियम, जानिए आप पर पड़ेगा क्‍या असर

इन नियमों से हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पॉलिसियां अधिक स्‍टैंडर्डाइज्‍ड होंगी. इन्‍हें समझना आसान होगा. साथ ही ये ज्‍यादा ट्रीटमेंट और प्रोसीजर कवर करेंगी.

र‍िलायंस जनरल इंश्‍योरेंस ने लॉन्‍च किया 'इंश्‍योरेंस गिफ्ट कार्ड', क्‍या आपको लेना चाहिए?

यह एक प्रीपेड कार्ड है. किसी रेगुलर गिफ्ट वाउचर की तरह यह काम करता है. इस गिफ्ट कार्ड का इस्‍तेमाल केवल रिलायंस जनरल इंश्‍योरेंस की पॉलिसियां खरीदने में किया जा सकता है.

साइबर फ्रॉड से नुकसान की भरपाई करेगी फ्लिपकार्ट-बजाज आलियांज की यह पॉलिसी

देश में साइबर फ्रॉड की बढ़ती वारदातों के बीच फ्ल‍िपकार्ट और बजाज आलियांज जनरल इंश्‍योरेंस कंपनी ने हाथ मिलाया है. इस पार्टनरशिप के तहत वे साइबर अटैक, साइबर फ्रॉड या विभिन्‍न प्‍लेटफॉर्मों पर ऐसी किसी जालसाजी से होने वाले आर्थिक नुकसान के खिलाफ कवर उपलब्‍ध कराएंगी.

अप्रैल-अगस्त में टर्म पॉलिसी लेने वालों में 50% ने एक करोड़ या अधिक का कवर लिया

पॉलिसी बाजार डॉट कॉम ने कहा, ''इससे पता चलता है कि लोग ऊंचे कवर वाली पॉलिसियों में निवेश कर रहे हैं. ये पॉलिसियां काफी सस्ते दाम मसलन 1,000 रुपये मासिक तक में उपलब्ध हैं.''

इरडा ने बीमा कंपनियों को दी वीडियो आधार‍ित केवाईसी की इजाजत

इरडा के अनुसार, वीडियो आधारित पहचान प्रक्रिया (वीबीआईपी) के जरिये खोले जाने वाले सभी खातों या अन्य सेवाओं को बीमा कंपनी को समुचित सत्यापन के बाद ही शुरू करना होगा, जिससे इस प्रक्रिया की विश्वसनीयता बनी रहे.

कोरोना रक्षक पॉलिसी के बारे में क्‍या ये बातें जानते हैं आप?

इस पॉलिसी के तहत लोगों को तीन तरह के विकल्‍प मिलते हैं. ये तीनों ही छोटी अवधि के होते हैं. पॉलिसी की अवधि 3.5 महीने, 6.5 महीने और 9.5 महीने की होती है.

छोटे उद्योगों के लिए जल्‍द आएंगी स्‍टैंडर्ड इंश्‍योरेंस पॉलिसी : इरडा प्रमुख

खुंटिया बोले कि मोटर जैसे सेक्‍टरों में खासतौर से बिक्री कम है. इससे सामान्‍य बीमा कंपनियों को नुकसान हो सकता है.

इंश्‍योरेंस अंडरराइटिंग क्‍या है, यह कैसे काम करती है?

यह प्रक्रिया बीमा कंपनी को नियम और शर्तों को तय करने में भी मदद करती है. इसके आधार पर ही इंश्‍योरेंस कंपनी एक्‍सक्‍लूजन, को-पेमेंट, वेटिंग-पीरियड, डिस्‍काउंट इत्‍यादि के बारे में फैसला ले पाती है.

Load More...

हमें फॉलो करें


ईटी ऐप हिंदी में डाउनलोड करें


Copyright © 2020 Bennett, Coleman & Co. Ltd. All rights reserved. For reprint rights: Times Syndication Service

BACK TO TOP